https://www.fapjunk.com https://pornohit.net london escort london escorts buy instagram followers buy tiktok followers
HomeCrimeविवाहिता की हुई मौत के ज़िम्मेदार है ससुराल वाले

विवाहिता की हुई मौत के ज़िम्मेदार है ससुराल वाले

लखनऊ (संवाददाता) लखनऊ के टिकैतगंज की रहने वाली 25 वर्षीय एक विवाहिता की मौत के बाद उसके परिजनों ने मायके वालो पर आरोप लगाया है कि उसके चचिया ससुर ने निजी फायदे के लिए उसके इलाज मे लापरवाही की जिसकी वजह से उसकी मौत हो गई| यहीं नहीं इस बात को लेकर पोटमार्टम हाउस के बाहर दोनों पक्षों में जमकर हंगामा हुआ। मृतिका के परिजनों और सुसराल वालों मे गाली गलौज व मारपीट की नौबत आ गई| बाज़ार खाला व चौक पुलिस मौके पर पहुॅची और हंगामा कर रहे लोगो को शान्त कराया । मृतिका के परिजनों का आरोप था कि ससुराल वालों ने मायके वालो को गुमराह किया था|सूचना पाकर पहुॅची बाज़ार खाला पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगो को यक़ीन दिलाया कि शव के पोस्टमार्टम के बाद रिपोर्ट के आधार पर कार्यवाही की जाएगी। मायके पक्ष ने सुसराली पक्ष के खिलाफ तहरीर देने की बात भी कही है।

जानकारी के अनुसार ट्रेवेल एजेन्सी चलाने वाले आशियाना निवासी दिनेश कुमार अवस्थी ने साल 2011 मे अपनी बेटी अर्पिता तिवारी का विवाह टिकैतगंज बाज़ार खाला के रहने वाले राहुल तिवारी के साथ की थी| शादी के बाद अर्पिता ने एक बेटी को भी जन्म दिया था तीन दिन पूर्व 11 अगस्त को अर्पिता की बेटी का जन्म दिन भी था| जन्म दिन की पार्टी घर पर ही धूमधाम से मनाई गई थी, जिसमे तमाम रिशतेदार शामिल हुए थे। अर्पिता का पति राहुल उन्नाव मे अपनी बुआ के होटल मे नौकरी करता है। अर्पिता के मायके वालो का कहना था कि अर्पिता को 11 तारीख की रात मे पेट मे दर्द हुआ तो उसे फात्मा अस्पताल मे भर्ती कराया गया| लेकिन उसे वहाँ कोई फायदा नही हुआ तो अर्पिता के चचिया ससुर राम किशोर तिवारी ने उसका घर पर ही इलाज शुरू कर दिया राम किशोर अवध अस्पताल मे टेक्निशियन है। मायके पक्ष का आरोप है कि घर मे इलाज की वजह से ही अर्पिता की मौत हुई है| मौत होने के बावजूद भी सुसराल वाले हम लोगो को गुमराह करते रहे और अर्पिता के शव को लेकर अस्पताल जाने का बहाना किया फिर रास्ते मे कह दिया कि अर्पिता की मौत हो गई। अर्पिता की मौत के बाद उसकी सुसराल पहुॅचे मायके वालो ने ससुराल वालों पर आरोप लगा कर हंगामा किया तो बाज़ार खाला पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। मायके वालो का आरोप था कि अर्पिता का मोबाईल उसका देवर और पति लेकर भाग गया उस मोबाईल मे अर्पिता की मौत से जुड़े सुबूत है| हालाँकि मायके पक्ष ने सुसराल वालों के विरुद्ध तहरीर देने की बात कही है लेकिन चैकी इन्चार्ज टिकैत गंज कुलदीप तिवारी का कहना है कि अभी तक कोई तहरीर नही दी गई है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read